Republic Day (National Days of India)

India became a Republic when the Constitution of the Country came into force on 26th January 1950, thereby defining it as a Sovereign Socialist Democratic Republic with a Parliamentary form of Government, through the Preamble. The Indian Constitution, which was adopted by the Constituent Assembly after considerable discussions represented the framework of the Government of the Country. Henceforth, 26th January has been recognized and celebrated as India's Republic Day with great ardour , and is decreed a national holiday. The event is a constant reminder of the selfless deeds of all martyrs of the Country, who laid down their lives in the freedom struggle and various succeeding wars against foreign aggression.

गणतंत्र दिवस

भारत देश एक गणतंत्र बना जब 26 जनवरी 1950 को देश का संविधान लागू हुआ और इस प्रकार यह सरकार के संसदीय रूप के साथ एक संप्रभुताशाली समाजवादी लोक‍तांत्रिक गणतंत्र के रूप में सामने आया भारतीय संविधान, जिसे देश की सरकार की रूपरेखा का प्रतिनिधित्‍व करने वाले पर्याप्‍त विचार विमर्श के बाद विधान मंडल द्वारा अपनाया गया तब से 26 जनवरी को भारत के गणतंत्र दिवस के रूप में भारी उत्‍साह के साथ मनाया जाता है और इसे राष्‍ट्रीय अवकाश घोषित किया जाता है। यह आयोजन हमें देश के सभी शहीदों के नि:स्‍वार्थ बलिदान की याद दिलाता है, जिन्‍होंने आजादी के संघर्ष में अपने जीवन खो दिए और विदेशी आक्रमणों के विरुद्ध अनेक लड़ाइयां जीती।

top