यौन आसनों की सूची

वात्स्यायन का कामसूत्र The Kama Sutra of Vatsyayana

यौन आसनों की सूची

संभोग के विभिन्न आसन की संभोग चित्र सहित सूची देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

स्तन को सुडौल बनाने के आयुर्वेदिक धरेलू उपाय लड़कियां अपने ब्रा की सही नाप कैसे लें
   
स्तनों की देख रेख इस प्रकार बढ़ाएं अपने होठों का आकर्षण
   
महिलाओं के लिए गर्भ निरोधक विकल्प गर्भ निरोधक
 
गर्भ निरोधक : मानक दिन प्रणाली पुरूषों के लिए गर्भनिरोधक विकल्प
 
प्राकृतिक परिवार नियोजन विधि क्या है ? गर्भ निरोधक : शारीरिक तापमान प्रणाली
 
प्रसव की सम्भावित तिथि की गणना कैसे की जाती है? महिला कंडोम क्या होता है?
 
स्तनपान मुहांसों को कैसे कम किया जा सकता है?
   
  शिशु के स्वास्थ्य की देखभाल कैसे करें
चुंबन में आरामदायक स्थिति में महसूस करता है व्यक्ति  
   
उम्र ढलने के साथ सेक्स की चाहत नहीं घटती कॉरपोरेट कल्चर और सेक्स लाइफ
   
बॉस को खुश रखने के लिए सेक्सी ड्रेस पहनती हैं लड़कियां खुशहाल जिंदगी का राज - हफ्ते में 3 बार सेक्स
   
विपरीत सेक्स में पैरंट्स के चेहरों को ढूंढना सेक्सुअल इंप्रिटिंग पति पत्नी में बेडरुम की बातें जो दिल को छू ले
   
गर्भावस्था में कैसे रहें स्मार्ट  
   
क्या किशोर - किशोरियों को यौन शिक्षा देने से स्वच्छंद संभोग को बढ़ावा मिलता है?  

 

 

English Version of MainStree

 
स्त्री में जनन तंत्र स्तनपरक समस्याएं
 
यौवनारम्भ / किशोरावस्था रजोधर्म/माहवारी क्या है?
 
स्त्रीं में माहवारी सम्बन्धी समस्याएं महिलाओं में असामान्य योनिक स्राव
 
गर्भ धारण महिलाओं में अण्डकोष की पुष्टि
 
क्या गर्भावस्था के दौरान संभोग करना चाहिए ? महिलाओं में अंग भ्रंश (प्रोलैप्स)
 
प्रसव महिलाओं के वल्वा में पीड़ा और कष्ट
 
स्तनपान और प्रसवोपरान्त स्तन इन्फैक्शन महिलाओं में प्रसूति परक नासूर (फिस्चुला)
 
सुरक्षित मातृत्व सुनिश्चित कैसे करें ? महिलाओं में बाह्रोन्मुख (इकटोपिक) गर्भ
 
जननांगों की प्रसवोपरान्त समस्याएं महिलाओं में प्रजननेन्द्रिय में कैंसर
 
गर्भपात यौनपरक स्वास्थ्य
 
रजो निवृति मर्दों में जनन तंत्र के स्वास्थ्य की समस्याएं
 
महिलाओं और पुरूषो में बांझपन या अनुर्वरकता पुरूषों में जनन तंत्र
 
कृत्रिम गर्भाधान क्या है ? स्वपन दोष किसे कहते हैं?
 
हस्तमैथुन क्या होता है? यौन सम्भोग से संक्रमित इन्फैक्शन / यौन रोग
 
क्या लिंग के माप का सम्भोग पर कुछ प्रभाव पड़ता है? नपुंसकता क्या है?
 
  मासिक धर्म में अनियमितता एवं आयुर्वेद में उपाय 

 

 
 
 

वात्स्यायन का कामसूत्र The Kama Sutra of Vatsyayana

संभोग के विभिन्न आसन की संभोग चित्र सहित सूची देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

Back to Kamasutra Menu Page

महर्षि वात्स्यायन का जन्म बिहार राज्य में हुआ था और प्राचीन भारत के महत्त्वपूर्ण साहित्यकारों में से एक हैं। महर्षि वात्स्यायन ने कामसूत्र में न केवल दाम्पत्य जीवन का श्रृंगार किया है वरन कला, शिल्पकला एवं साहित्य को भी संपदित किया है। अर्थ के क्षेत्र में जो स्थान कौटिल्य का है, काम के क्षेत्र में वही स्थान महर्षि वात्स्यायन का है। महर्षि वात्स्यायन का कामसूत्र विश्व की प्रथम यौन संहिता है जिसमें यौन प्रेम के मनोशारीरिक सिद्धान्तों तथा प्रयोग की विस्तृत व्याख्या एवं विवेचना की गई है। अधिकृत प्रमाण के अभाव में महर्षि का काल निर्धारण नहीं हो पाया है। परन्तु अनेक विद्वानों तथा शोधकर्ताओं के अनुसार महर्षि ने अपने विश्वविख्यात ग्रन्थ कामसूत्र की रचना ईसा की तृतीय शताब्दी के मध्य में की होगी। तदनुसार विगत सत्रह शताब्दिओं से कामसूत्र का वर्चस्व समस्त संसार में छाया रहा है और आज भी कायम है। संसार की हर भाषा में इस ग्रन्थ का अनुवाद हो चुका है। इसके अनेक भाष्य एवं संस्करण भी प्रकाशित हो चुके हैं। वैसे इस ग्रन्थ के जयमंगला भाष्य को ही प्रमाणिक माना गया है। कोई दो सौ वर्ष पूर्व प्रसिद्ध भाषाविद सर रिचर्ड एफ़ बर्टन (Sir Richard F. Burton) ने जब ब्रिटेन में इसका अंग्रेज़ी अनुवाद करवाया तो चारों ओर तहलका मच गया । अरब के विख्यात कामशास्त्र ‘सुगन्धित बाग’ पर भी इस ग्रन्थ की अमिट छाप है।

महर्षि के कामसूत्र ने न केवल दाम्पत्य जीवन का श्रृंगार किया है वरन कला, शिल्पकला एवं साहित्य को भी संपदित किया है। राजस्थान की दुर्लभ यौन चित्रकारी तथा खाजुराहो, कोणार्क आदि की जीवन्त शिल्पकला भी कामसूत्र से अनुप्राणित है। रीतिकालीन कवियों ने कामसूत्र की मननोहारी झांकियां प्रस्तुत की हैं तो गीत गोविन्द के गायक जयदेव ने अपनी लघु पुस्तिका ‘रति-मंजरी’ में कामसूत्र का सार संक्षेप प्रस्तुत कर अपने काव्य कौशल का अद्भुत परिचय दिया है।

काम की व्याख्या

ग्रंथ मे काम की व्याख्या द्वि-आयामी है। प्रथम सामान्य एवं द्वितीय विशेष। सामान्य के अन्तर्गत पंचेन्द्रिओं द्वारा प्राप्त होने वाले आनन्द एवं रोमांच का समावेश किया गया है जिसका प्रत्यक्ष सम्बन्ध मन एवं चेतना से जुड़ा हुआ है। इन्हीं के द्वारा मनोशारीरिक क्रिया एवं प्रतिक्रिया का संचालन होता है। विशेष के अन्तर्गत स्पर्शेन्द्रिओं की भूमिका प्रतिपादित की गई है। शिश्न और योनि अत्यन्त संवेदनशील स्पर्शेन्द्रिआं हैं। इन्हीं का पारस्परिक मिलन एवं घर्षण सम्भोग है जिसकी अन्तिम परिणति चरमोत्कर्ष (Climax) एवं स्खलन (Ejaculation) में होती है।

दाम्पत्य

कामसूत्र ने दाम्पत्य उल्लास एवं संतृप्ति के लिए यौन-क्रीड़ा को आधार माना है। दाम्पत्य जीवन में उल्लास एवं उमंग का संचार तभी होता है जब पति पत्नी दोनों में मानसिक तालमेल हो, दोनों एक दूसरे के परिपूरक बनने का प्रयास करें तथा यौन क्रीड़ा के समय पारस्परिक सहयोग करें और अपने अपने लक्ष्य की ओर आत्मविश्वास के साथ निरन्तर आगे बढ़ते रहें। दाम्पत्य जीवन में सतत रसवर्षा के लिए ही महर्षि ने अपने कामसूत्र में यौन प्रेम के रहस्यों का उद्घाटन किया है एवं यौन क्रीड़ा तथा तकनीक का सूक्ष्म तथा विस्तृत वर्णन प्रस्तुत किया है।

काम एक अत्यन्त शक्तिशाली मूल प्रवृत्ति (Instinct) है। काम ही जीवन का संपदन, जीवन का उद्गम, उसके अस्तित्व तथा उसकी गतिशीलता तथा नर-नारी के पारस्परिक अकर्षण एवं सम्मोहन का रहस्य है। वास्तव में काम ही विवाह एवं दाम्पत्य सुख-शांति की आधारशिला है। काम का सम्मोहन ही नर-नारी को वैवाहिक-सूत्र में आबद्ध करता है। अतः विवाहित जीवन में आनन्द की निरन्तर रस-वर्षा करते रहना ही कामसूत्र का वास्तविक उद्देश्य है।

 काम-विषयक अन्य प्राचीन ग्रन्थ

पंचशक्य

स्मरप्रदीप

रतिमंजरी

रसमंजरी

अनंग रंग

 

अब भी ज़्यादातर भारतीयों का मानना है कि सेक्स ज्ञान के लिए दूसरी शताब्दी में वात्स्यायन द्वारा लिखी गई 'कामसूत्र' से बेहतर कोई किताब नहीं है। लेकिन कामसूत्र की प्रसिद्धि सिर्फ भारत तक ही नहीं है। दुनिया की कई भाषाओं में इसका अनुवाद किया गया है और इसने लोगों तक सेक्स ज्ञान को परोसने में अहम रोल प्ले किया है।  कामसूत्र महर्षि वात्सायन द्वारा लिखा गया भारत का एक प्राचीन कामशास्त्र ग्रंथ है। दुनिया भर में यौन बिमारीयों और एड्स के बढते चलन के कारण इस प्राचीन पुस्तक पर लोगों का खूब ध्यान गया है। खास कर पश्चिम के देशों में यह काफी लोकप्रिय हुआ है और इसमें लोगों की उत्सुकता बढी है। कामसूत्र को उसके विभिन्न आसनों के लिए ही जाना जाता है.

संभोग के विभिन्न आसन की संभोग चित्र सहित सूची देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

 

 

योनिच्छद या हाइमन क्या है? कौमार्य से योनिच्छद (हाइमन) का क्या संबंध है?

लड़कियों के हाइमन या योनिच्छद कितने प्रकार के होते है?

लड़कियों के यौवन आरंभ में क्या होता है? लड़कियों के जांघ एवं काँख के बालों का विकास (यौवनारंभ एवं मासिक धर्म चक्र)

युवा लड़कियों के देर से स्तन विकास या जल्दी स्तन विकास

लड़की के स्तन का विकास, वक्ष का विकास कैसे होता है?

मेरे स्तन कब निकलेंगे? मुझे स्तन होने में कितना समय लगेगा?

अपने स्तन के साईज को बढाने के लिए मैं क्या कर सकती हूँ?

अपने वक्ष के साईज को बढाने के लिए मैं क्या कर सकती हूँ?

एक लड़की के दोनों स्तनों के आकार में भिन्नता, क्या यह सामान्य है?

स्तन के निप्पल के आस पास बाल होना क्या सामान्य है?

मेरे निप्पल बाहर के बजाए अन्दर की तरफ़ हैं। क्या ये सामान्य है?

मेरे स्तन के निप्पल के आसपास ददोरा या चकता है तो क्या मेरे स्तन संक्रमित हैं?

स्तन या वक्ष में दर्द या स्तन में कोमलता क्या सामान्य है?

मेरे स्तन से डिस्चार्ज हो तो मैं क्या करूँ?

स्तन में सूजन होना क्या सामान्य है?

मेरे स्तन लाल हो गये हैं एवं सूज गये हैं, मैं क्या करूँ?

मेरे स्तन पर खेल के दौरान चोट लगने से सुजन हो गयी है, मैं क्या करूँ?

युवा लड़की को अपने स्तनों की देख रेख कैसे करनी चाहिए?

लड़कियों के स्तन में स्तन कैंसर की संभावना

लड़कियों के ब्रा की सही नाप क्यों जरूरी है और लड़कियां अपने ब्रा की सही नाप कैसे लें

श्रोणि परीक्षा या योनी परीक्षा क्या है?

स्तन की त्वचा पर स्ट्रेच मार्क्स, क्या ये सामान्य हैं?

मासिक धर्म क्यों होता है और इस समय कैसा महसूस होता है?

मैं एक युवा लड़की हूँ और मेरा मासिक धर्म अभी तक आरंभ नहीं हुआ है, क्या करूँ?

मासिक धर्म सामान्य रूप से कब होना चाहिए?

मासिक धर्म नियमित रूप से नहीं हो तो क्या करें

बहुत देर से या बहुत जल्दी जल्दी मासिक धर्म का होना

मेरा मासिक धर्म इस महिने नहीं हुआ इसका क्या मतलब है?

मासिक धर्म के दौरान लड़कियां कैसे कपड़े पहनें?

क्या मैं अपने मासिक धर्म के दौरान तैराकी और अन्य सामान्य काम कर सकती हूँ?

मासिक धर्म होने से पूर्व के लक्षण

मासिक धर्म के दौरान ऐंठन या मरोड़

मासिक धर्म के दौरान खून के थक्के

जी स्पॉट : सेक्स में स्त्री की चरम उत्तेजना में जी स्पॉट का महत्त्व

सेक्स में स्त्री के क्लिटरस (भग शिश्न) को उत्तेजित करने का महत्व

संभोग के दौरान सेक्स पार्टनर के द्वारा उत्तेजित करने की क्रिया

क्या हस्तमैथुन सामान्य क्रिया है?

हस्तमैथुन संबंधी मिथक

सेक्स के दौरान लड़की के योनी में अंगुली डालकर उत्तेजित कैसे करें?

सेक्स में स्त्री के क्लिटरस (भग शिश्न) को अंगुली से सहलाना

सेक्स के दौरान लड़की के योनी में क्लिटोरीस को अंगुली से उत्तेजित करने के तरीके

स्त्री समलैंगिकता या स्त्री समलैंगिक कामुकता क्या है?

कृत्रिम योनि का निर्माण कैसे होता है?

रजोनिवृति क्या है?

लड़कियां हस्तमैथुन कैसे करती हैं?

रति क्रिया के दौरान महिलाओं के चरम सुख पाने के सबसे सही तरीके क्या हैं?

यौवन क्या है?

लिंग की सामान्य साईज क्या होती है?

मेरे लिंग की लंबाई कब बढनी शुरू होगी?

क्या मैं अपने लिंग की लंबाई (साईज) बढा सकता हूँ?

मेरा लिंग बहुत छोटा है, मैं क्या करूँ?

वीर्य क्या है?

वीर्य सामान्य रूप से कैसा होता है?

क्या पुरूषों की प्रजनन क्षमता कम हो रही है?

पुरूषों की प्रजनन क्षमता पर वातावरण का क्या प्रभाव पड़ता है?

अपनी प्रजनन क्षमता को कैसे संरक्षित रखें?

पुरूषों का स्वप्नदोष

लड़कों में स्तन का विकास होना

brand bihar kamasutra

top